राजस्थान पालनहार योजना2022: ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन स्टेटस

Rajasthan Palanhar Yojana  | राजस्थान पालनहार योजना आवेदन | Rajasthan Palanhar Yojana Application Form | राजस्थान पालनहार योजना आवेदन प्रक्रिया | पालनहार योजना राजस्थान 2022 List

राजस्थान पालनहार योजना को राजस्थान सरकार के द्वारा शुरु किया गया है। राजस्थान पालनहार योजना के ज़रिये से राज्य के अनाथ बच्चो को लाभ प्रदान करना है। इस योजना के अंतर्गत जिन अनाथ बच्चो के माता पिता मर गए है उन अनाथ बच्चो के लिए पालन-पोषण, शिक्षा आदि की व्‍यवस्‍था संस्‍थागत नहीं की जाएगी बल्कि समाज के भीतर ही बालक-बालिकाओं के निकटतम रिश्‍तेदार/परिचित व्‍यक्ति के इच्छुक व्यक्ति को परिवार का पालनहार बना कर राज्य की पारवारिक  माहौल में शिक्षा, भोजन, वस्‍त्र एवं अन्‍य आवश्यक सुविधाओं उपलब्ध करना है।

Rajasthan Palanhar Yojana 2022

इस योजना के ज़रिये से राज्य के हर एक अनाथ बच्चे के पालनहार को 5 वर्ष की आयु तक के बच्चो के लिए 500 रूपये हर महीने और इसके बाद स्कूल में प्रवेश होने के बाद 18 वर्ष की आयु तक हर महीने 1000 रूपये की धनराशि राज्य सरकार के द्वारा आर्थिक सहयता के रूप में प्रदान की जाएगी। और इसके साथ ही वस्त्र ,स्वेटर जुटे एवं  अन्‍य आवश्‍यक कार्य हेतु 2000 रूपये की धनराशि प्रतिवर्ष प्रति अनाथ बच्चे को उपलब्ध कराई जाएगी। Rajasthan Palanhar Yojana 2022 के माध्यम से प्रत्येक अनाथ बच्चो को उनके खाने पीने की सुविधा एवं रहने की सुविधा साथ ही कपड़ो की सुविधा यह सब राज्य सरकार के द्वारा प्रदान की जाएगी।

rajasthan-palanhar-yojana-111

राजस्थान पालनहार योजना का सितंबर 2022 तक किया जाएगा नियमित भुगतान

Rajasthan Palanhar Yojana को राजस्थान के अनाथ हुए बच्चो का पालन पोषण और उनकी शिक्षा के लिए आरम्भ किया गया है। इस योजना को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के द्वारा शुरु किया गया है। राजस्थान पालनहार योजना के माध्यम से राज्य के अनाथ हुए बच्चो को 5 वर्ष आयु तक के अनाथ बच्चो को  ₹500 प्रति माह एवं बच्चों इसके बाद स्कूल प्रवेश होने के बाद 18 वर्ष की आयु तक ₹1000 प्रतिमाह की अनुदान धनराशि राज्य सरकार के द्वारा आर्थिक सहयता के रूप में प्रदान की जाएगी। जिसके अंतर्गत राज्य के अनाथ हुए सभी बच्चो को पालनहार योजना के पात्र बच्चो को सितंबर 2021 तक नियमित भुकतान किया जायेगा।

राजस्थान पालनहार योजना में योग्य बच्चो की सूचि

  • अनाथ बच्‍चे
  • न्‍यायिक प्रक्रिया से मृत्‍यु दण्‍ड/ आजीवन कारावास प्राप्‍त माता-पिता की संतान
  • निराश्रित पेंशन की पात्र विधवा माता की अधिकतम तीन संताने
  • नाता जाने वाली माता की अधिकतम तीन संताने
  • पुर्नविवाहित विधवा माता की संतान
  • children of parents with AIDS
  • कुष्‍ठ रोग से पीडित माता/पिता की संतान
  • child of disabled parent
  • तलाकशुदा/परित्‍यक्‍ता महिला की संतान

 

Rajasthan Palanhar Yojana 2022 Highlights
 योजना का नाम  पालनहार योजना राजस्थान
 इनके द्वारा शुरू की गयी  राजस्थान सरकार
 लाभार्थी  राज्य के बच्चे/ पालनहार
 उद्देश्य  बच्चो की शिक्षा प्रदान करना
 ऑफिसियल वेबसाइट  यहाँ क्लिक करे
Rajsthan Palanhar Yojana 2022 में दी जाने वाली अनुदान राशि
  • इस पालनहार योजना के अंतर्गत राज्य के सभी पात्र अनाथ बच्चो को 5 वर्ष की आयु तक 500 रूपये तक धनराशि प्रदान की जाएगी।
  • इसके बाद अनाथ बच्चे का स्कूल में प्रवेश होने के बाद 18 वर्ष के होने तक 1,000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत अनाथ हुए बच्चो को इसके अलावा कपड़ो, जूते इत्यादि के लिए 2,000 रूपये हर साल धनराशि अलग से दिए जायेंगे।
राजस्थान पालनहार योजना का उद्देश्य किया है

दोस्तों जैसे की हमने आपको अपने इस लेख के ज़रिये से आपको ऊपर बताया है की राजस्थान सरकार का मुख्य उद्देश्य अनाथ हुए बच्चो का पालन पोषण और उनकी शिक्षा के लिए आर्थिक सहयता प्रदान करने के लिए शुरु की गई है। इस योजना के माध्यम से अनाथ हुए 5 वर्ष तक की आयु के बच्चो को ₹500 की आर्थिक सहयता प्रदान की जाएगी इसके अलावा स्कूल में प्रवेश होने के बाद 18 वर्ष की आयु तक ₹1000 की आर्थिक सहयता राज्य सरकार के द्वारा हर महीने प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से राज्य के प्रत्येक अनाथ बच्चो को आत्मनिर्भर बनाना है। इस योजना के माध्यम से मिलने वाली धनराशि से अनाथ बच्चो को किसी पर निर्भर रहने की आवश्यकता नहीं रहेगी। इसके अलावा पात्र सभी बच्चो को अलग से ₹2000 की धनराशि कपडे एवं जूतों के लिए प्रदान की जाएगी हर महीने राज्य सरकार के द्वारा प्रदान की जायेंगे।

Palanhar Yojana Rajasthan 2022 के लाभ तथा विशेषताएं
  • राजस्थान सरकार के द्वारा इस पालनहार योजना को शुरु किया गया है।
  • राज्य सरकार के द्वारा इस योजना के माध्यम से राज्य के सभी अनाथ हुए बच्चो की आर्थिक सहयता प्रदान की जाएगी।
  • पालनहार योजना के माध्यम से राज्य सरकार के द्वारा अनाथ हुए बच्चे को 5 वर्ष तक की आयु के बच्चों को ₹500 प्रति माह इसके बाद स्कूल प्रवेश होने के बाद 18 वर्ष की आयु तक के बच्चों को प्रतिमाह ₹1000 की अनुदान धनराशि प्रदान की जाएगी।
  • राजस्थान पालनहार योजना के अंतर्गत इसके अलावा अनाथ हुए बच्चो को ₹2000 प्रति वर्ष की धनराशि कपडे एवं जुटे स्वेटर खरीदने के लिए प्रतिमाह प्रदान की जाएगी।
  • सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के द्वारा इस योजना का संचालन किया गया है।
  • राज्य सरकार को इस योजना के माध्यम से अनाथ हुए बच्चो को आत्मनिर्भर एवं सक्षत बनानां है।
  • इस योजना के माध्यम से अनाथ हुए बच्चो को किसी दूसरे पर निर्भर रहने की कोई आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
  • योजना का आवेदन इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर किया जा सख्त है।
  • इस योजना में आवेदन करने के लिए अनाथ हुए बच्चो को किसी भी सरकारी दफ्तरों के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
पालनहार योजना राजस्थान 2022 की योग्यता
  • राजस्थान के निवासी को इस योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा।
  • इस योजना के अंतर्गत पालनहार के परिवार की वार्षिक आय 1.20 लाख से ज़्यादा नहीं होनी चाहिए।
  • अनाथ ऐसे बच्चो को 2 वर्ष की आयु में आंगनबाड़ी केन्‍द्र पर तथा 6 वर्ष की आयु में स्‍कूल भेजना जरुरी होगा।
राजस्थान पालनहार योजना हेतु ज़रूरी दस्तावेज़
  • आधार कार्ड
  • भामाशाह कार्ड
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • वोटर कार्ड
  • बच्चे का आंगनबाड़ी में पंजीकरण का प्रमाण पत्र / विद्यालय में अध्यनरत होने का प्रमाण-पत्र
  • बच्चे का आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
पालनहार योजना राजस्थान 2022 में आवेदन कैसे करे?
  • आवेदक को सबसे पहले इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए Social Justice and Empowerment Department की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर अब आवेदक को राजस्थान पालनहार योजना को Application Form PDF File डाउनलोड करना होगा।
  •  एप्लीकेशन फॉर्म को डाउनलोड करने के बाद अब आपसे इस फॉर्म में मालूम की गई जानकारी जैसे – पालनहार का नाम , जन्मतिथि , आदि दर्ज करनी होगी।
  • सभी जानकारी को धनयानपूर्वक भरने के बाद अब आपको अपने सभी जरुरी दस्तावेजों को आत्ताच करना होगा।
  • अब आपको इस आवेदन फॉर्म को अपने नजदीकी शहरी क्षेत्र में विभागीय जिला अधिकारी के पास, ग्रामीण क्षेत्र के निवासी अपने फॉर्म को संबंधित विकास अधिकारी के पास या  ई मित्र कियोस्क केंद्र में जाकर जमा करना होगा। इस प्रकार से आपका आवेदन पूरा हो जायेगा।
संपर्क विवरण

दोस्तों आपको हमने अपने इस लेख के ज़रिये से इस पालनहार योजना राजस्थान से संबंधित संपूर्ण जानकारी आपको प्रदान कर दी है। अगर आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हो तो आप नीचे दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके अपनी समस्य का समाधान कर सकते है। हेल्पलाइन नंबर निम्म प्रकार है। हेल्पलाइन नंबर 01412226604 है।

Leave a Comment