राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना 2022: आवेदन, लाभ एवं शर्तें

Rajasthan Kamdhenu Dairy Yojana | प्रधानमंत्री पशुपालन योजना 2022 | कामधेनु डेयरी योजना के तहत लोन एवं सब्सिडी | कामधेनु डेयरी योजना राजस्थान pdf | Kamdhenu Dairy Yojana

दोस्तों राजस्थान सरकार के द्वारा राज्य के किसानो के लिए Kamdhenu Dairy Yojana की शुरुआत की है। की पहले के समय में गाय का दूध लोगो के लिए बहुत लाभकारी साबित होता था इसी के साथ लोगो के कई रोग युही ख़त्म हो जाते थे। सरकार के द्वारा गाय के दूध बढ़ावा देने के लिए राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना के अंतर्गत सब्सिडी प्रदान करने का फैसला लिया गया है। आज हम आपको अपने अपने इस लेख के ज़रिये से इस योजना से जुडी सभी जानकारी प्रदान करने जा रहे है। यदि आप इस Kamdhenu Dairy Yojana से जुडी जानकारी प्राप्त करना चाहते हो तो आपसे निवेदन है की आप हमारे इस लेख को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़े

Kamdhenu-Dairy-Yojana

कामधेनु डेयरी लोन सब्सिडी योजना 2022 क्या है

जैसे आपको को ऊपर लेख के ज़रिये से बताया है रजिस्थान सरकार ने covid-19 के महामारी को देखते हुए सरकार ने कामधेनु डेयरी लोन सब्सिडी योजना शुरु कि है। क्युकि हमारे देश में गाये का दूध बहुत ही लाभदारी माना जाता है पिछले कुछ वर्षो हमारे देश गाय के दूध में काफी मिलावट देखने को मिल रही है ,देसी गाय का दूध को बढ़ावा देने के लिए कामधेनु डेयरी लोन सब्सिडी योजना का सरकार द्वारा लिया गया है। लॉकडाउन  भाइयो को हुए नुकसान से थोड़ी बहुत रहत तो जरूर मिलेगी।

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना उद्देश्य

राजस्थान सरकार के द्वारा प्रदेश के ज़्यादा से ज़्यादा नागरिको को रोजगार प्राप्त हो उसके लिए राज्य सरकार ने राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना को शुरु किया है। जैसे की हम सब जानते है की कोरोना वायरस के वजह से देश के हर मज़दूर की हालत बहुत ख़राब है। जिसकी वजह से प्रत्येक मज़दूर अपने अपने राज्य वापस लोट गए है। इसी के लिए राजस्थान सरकार ने मज़दूरों को रोजगार देने के लिए इस योजना को लेकर आई है। इससे देश की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी और इसी के साथ देश का विकास भी होगा।

Overview of Kamdhenu Dairy Loan Subsidy Yojana

 योजना का नाम  कामधेनु डेयरी योजना
 सम्बंधित राज्य  Rajasthan
 प्रारंभिक वर्ष  2021-22
 लाभार्थी  पशुपालक कृषक
 मुख्य लाभ  Loan and subsidy
 हेल्पलाइन नंबर  0141 – 2740613
 योजना प्रकार  किसान कल्याण योजना
 ऑफिसियल वेबसाइट  यह क्लिक केरे
राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना लाभ एवं विशेषताएं

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना का लाभ राज्य के उन सभी नागरिको को प्रदान किया जायेगा जो पशुपालक का काम करते है। क्योकि पशुपालक को ही सबसे ज़्यादा जानकारी हासिल होती है। यही कारण इसलिए उन्हें इस योजना को समझने में थोड़ा बहुत समय भी नहीं लगेगा।

योजना में लाभ :-

इस योजना के ज़रिये से राज्य के लोगो को रोजगार प्राप्त होगा साथ ही अन्य प्रकार के अवसर भी प्राप्त होंगे। क्योकि आने वाले समय में यह योजना लोगो को आत्मनिर्भर बनाने में कारगर साबित होगी। ताकि कोरोना जैसी महामारी आने पर वह नागरिक अपना जीवन बसर कर सके।

बेहतर दामों में दूध :-

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना के माध्यम से राज्य के लोगो को अच्छी क्वालिटी के दाम पर दूध मिलेगा। जिसको पीने वाले लोगो की बॉडी का इम्यूनिटी सिस्टम बढ़िया रहे।

महिला एवं युवा वर्ग को फायदा :-

इस योजना का लाभ प्रत्येक महिला एवं बेरोजगार नागरिको को प्रदान किया जायेगा ताकि वह आगे चल कर आत्मनिर्भर बन सके।

लाभार्थी का योगदान :-

राज्य का जो नागरिक इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करेगा उस नागरिक को सिर्फ 10 प्रतिशत पैसे लगाना होगा। बाकि राजस्थान सरकार आपको लोन के नाम पर छूट प्रदान करेगी। जिससे आपका काम बहुत आसानी से हो सके।

सब्सिडी की सुविधा :-

अगर कोई व्यक्ति सही समय पर अपना लोन चूका देता है तो आपको इसमें सरकार के द्वारा छूट के साथ साथ 30 प्रतिशत सब्सिडी प्रदान की जाएगी। जिसके माध्यम से नागरिक इस योजना के अंतर्गत मिलने वाला लाभ आसानी से प्राप्त कर सके।

मुख्यमंत्री कामधेनु डेयरी योजना की मुख्य विशेषताएं
  • जिसके अंतर्गत चुने गए लाभ्यर्थिओ को सब्सिडी रेट पर लोन प्रदान किया जायेगा, ये योजना वर्ष 2020-21 में शुरु की गयी है ताकि वो नागरिक अपना रोज़गार शुरू करके वे आत्मनिर्भर बन सके।
  • कामधेनु डेयरी योजना के अंतर्गत लाभ्यर्थी को अपने पास से 15% का खर्चा उठाना होगा
  • योजना  अंतर्गत राजस्थान सरकार के द्वारा शुरु की जाने वाली डेरी के लिए 85% का लोन सरकार द्वारा प्रदान किया जायेगा।
  • अगर शर्त के अनुसार किसान सरकार कहे मुताबिक लोन को समय सीमा देता है तो ,सरकार द्वारा उनको 35% की सब्सिडी प्रदान की जाएगी अन्यथा उनके बैंक अकाउंट में 35% का पैसा जमा किया अजयेगा
  • सरकार ने ये अनुमान लगाया है की एक डेरी शुरू करने में 3 से 5 लाख रुपए का खर्चा होगा जिसमे सिर्फ 15% पैसा लाभार्थियों को उठाना पड़ेगा।
Kamdhenu Dairy Yojana Rajasthan के तहत पात्रता मानदंड
  • पशुपालक, गोपालक, कृषकों, नवयुकों, महिलाओं को स्वरोजगार योजना के लिए कुछ जरुरी नियम सरकार द्वारा निर्धारित किये गए है,जिनका अच्छे से पालन करने के बाद ही  डेयरी फॉर्म ऑनलाइन आवेदन कर  सकते।
  • डेयरी खोलने की लिए नागरिक के पास काम से काम हरा चारा उत्पादन करने के लिए कम से कम 1 एकड़ जगह होनी चाहिए
  • किसान एक प्रोजेक्ट त्यार करके सरकार को देखना होगा ज 35लाख से ज़यादा का नहीं होना चाहिए।
  • किसान को 15% खुद वहन करना होगा
  • देसी नसल गाय होनी चाहिए जिनकी उम्र 6 वर्ष होनी चाहिए। उत्पादन प्रक्रिया के अनुसार गाय 10 से 12 लिटिर दूध देना चाहिए योजना के अंतर्गत किसान 25 गाय या भेस रखने की सुविधा है
  • गायों को एक बार में 18 तथा 6 महीने बाद दूसरे चढ़ में 20 देसी गाय खरीदनी होगी।
  • लाभार्थी या किसान को इस फील्ड  कम 2 वर्ष का अनुभव होना चाहिए
Kamdhenu Dairy Yojana हेतु आवेदन/ पंजीकरण करने की प्रक्रिया
  • कामधेनु डेयरी योजना अंतर्गत आपको राजस्थान गोपालन विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा
  • इस पोर्टल के ज़रिये से लाभार्थी किसान आसानी से फॉर्म डाउनलोड कर सकता।
  • या तो किसान एप्लीकेशन फॉर्म को कार्यालय से जाकर  प्राप्त कर सकता है।
  • उसके बाद निर्धारिक फॉर्म को अच्छे से पढ़ के और भर के वापस उसी कार्यालय जमा करना होगा
  • सरकार आपके सत्यापन के बाद कामधेनु डेयरी सब्सिडी के तहत लोन मिल जायेगा
कामधेनु डेयरी योजना राजस्थान 2022 आवेदन फॉर्म

कामधेनु डेयरी योजना सब्सिडी के तहत कोई भी राज्य  का किसान लोन सब्सिडी लिए आवेदन कर सकता है इस  अंतर्गत किसान को 25 गाय भैंसे पलने के लिए 3% के ब्याज पर कुल लगत का 85% दिया जा रहा है,किसान को बाकि बची राशि का 15% का स्वयं वहन करना होगा ,कामधेनु डेयरी योजना के तहत लिया गया लोन चुकाने पर 35% की सब्सिडी दी जाएगी।

PDF Download

Rajasthan Kamdhenu Dairy Yojana संपर्क विवरण:
  • कार्यालय संपर्क: गोपालन निदेशालय,
  • गोपालन भवन, पुलिस मुख्यालय के सामने, लालकोठी, टोंक रोड, जयपुर – 302015
  • फोन नंबर: (0141) 2740-613 / 519/819
  • फैक्स नंबर: (0141) 2740-613
  • ई-मेल आईडी: dir.dgs@rajasthan.gov.in

Leave a Comment