उत्तराखंड मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना 2022: ऑनलाइन पंजीकरण ,योग्यता एवं सूचि

Mukhyamantri Vatsalya Yojana Registration | मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना ऑनलाइन पंजीकरण | Mukhyamantri Vatsalya Yojana Online Apply | उत्तराखंड मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना

उत्तरखंड सरकार द्वारा राज्य के नागरिको के लिए विभिन प्रकार की योजना को शुरू किया जाता रहता है।  जिसका लाभ नागरिको को प्रदान करके उनके जीवन स्तर में बढ़ोतरी की जा सके। ऐसे ही एक योजना को उत्तराखंड सरकार द्वारा राज्य के बच्चो के लिए मुख्यमंत्री वातसल्य योजना को शुरू किया गया है। Mukhyamantri Vatsalya Yojana के ज़रिये से राज्य के उन बच्चो की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। जिनके माता-पिता की कोरोना वायरस समीकरण की वजह से मृत्यु हो गई है। कोरोना वायरस समीकरण की वजह से न जाने कितने बच्चे अनाथ हो गए है। अनाथ हुए बच्चो की मदद करने के लिए उत्तरखंड सरकार द्वारा इस योजना को शुरू किया गया है। Mukhyamantri Vatsalya Yojana से जुडी सभी जानकारी से आपको अगवत करेंगे। कैसे आप इस योजना का लाभ प्राप्त क सकते है।

Mukhyamantri Vatsalya Yojana 2022

उत्तराखंड सरकार द्वारा इस योजना को राज्य के उन बच्चो के लिए शुरू किया गया ही। जिन्होंने कोरोना वायरस समीकरण की वजह से उनके माता पिता की मृत्यु हो गई हो। Mukhyamantri Vatsalya Yojana के ज़रिये से हर महीने ऐसे बच्चो को 3000 रुपए भरण पोषण के लिए प्रदान किए जाएंगे। इस योजना का लाभ वह बच्चो को 21 वर्ष होने तक प्रदान किया जायेगा है। राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई यह योजना बहुत ही लाभ करी साबित होएगी। जिसकी वजह से अनाथ हुए बच्चे आत्मनिर्भर बन सकेंगे। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए बैंक अकाउंट होना ज़रूरी है क्योके के तहत प्राप्त होने वाली धन राशि बच्चो के सीधा बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी।

Mukhyamantri-Vatsalya-Yojana-Apply

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना 2022 के अंतर्गत अन्य लाभ

उत्तारखरण्ड सरकार द्वारा इस योजना का आरम्भ राज्य के कोरोना वायरस की वजह से हुए अनाथ बच्चो के हित में शुरू क्या गया है। इस योजना के माध्यम से अनाथ बच्चो को 3000 रुपए की धनराशि प्रदान की जाएगी। साथ ही उनकी शिक्षा और रोजगार देने की सहायता भी प्रदान की जाएगी। सरकार द्वारा ऐसे बच्चो के लिए सरकारी नौकरी में 5% का कोटा रखा जायेगा। सरकार द्वारा बच्चो की पैतृक संपत्ति कुछ नियम बनाये जाएंगे। जिसके तहत प्रॉपर्टी बेचने का अधिकार बच्चो के बालिग होने तक कसी को अधिकार नहीं होगा। Mukhyamantri Vatsalya Yojana के अंतर्गत बच्चो को रोज़गार के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था भी की जाएगी।

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना की शुरुआत

उत्तराखंड सरकार द्वारा कोरोना वायरस की वजह से अनाथ हुए बच्चो के लिए Mukhyamantri Vatsalya Yojana को शुरू किया गया है। इस योजना का आरम्भ 21 अगस्त 2021 को किया गया है। इस यजना के तहत प्राप्त होने वाली धन राशि लम्भ्यार्थियो के सीधे बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी। प्रदेश में बहुत से बच्चे ऐसे है। जिनके माता पिता या फिर दोनों में से से मृत्यु हो गयी होए। राज्य के 2311 बच्चो को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। सिर्फ 27% बच्चे इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है। जिलाधिकारी द्वारा योजना का लाभ प्रदान करने के लिए सतीपन किया जायेगा।

Mukhyamantri Vatsalya Yojana के अंतर्गत आवेदन की तिथि को बढ़ाया गया

राज्य सरकार द्वारा इस योजना की घोषणा 2 अगस्त 2021 की थी। इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की तिथि 31 मार्च 2022 रखी गयी थी। परन्तु अब आवेदन की तिथि को दो महीने के लिए आगे को बढ़ा दिया गया है। अब मई के अंत तक आवेदन कर सकते है। इस योजना के तहत कोरोना वायरस समीकरण की वजह से जिन बच्चो के माता-पिता के मृत्यु हो गई है। ऐसे बच्चो को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

Highlights Of Mukhyamantri Vatsalya Yojana 2022

योजना का नाम Mukhyamantri Vatsalya Yojana
किसने आरंभ की उत्तराखंड सरकार
लाभार्थी उत्तराखंड के वह बच्चे जिनके कोरोना वायरस संक्रमण के वजह से अपने माता पिता की मृत्यु हो गई
उद्देश्य बच्चों को भरण पोषण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना
साल 2021
आवेदन का प्रकार Online\Offline
आर्थिक सहायता ₹3000
सरकारी नौकरी में कोटा 5%
ऑफिसियल वेबसाइट जल्द ही शुरू की जाएगी

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना 2022 का उद्देश्य

उत्तराखंड सरकार द्वारा शुरू की गई Mukhyamantri Vatsalya Yojana का मुख्य उद्देश्य कोरोना वायरस की  बचो के माता पिता या फिर कोई एक की मृत्यु हो गई। ऐसे बच्चो को इस योजना के ज़रिये से 3000 रुपए की धनराशि का लाभ प्रदान किया जाएगा। ताकि वह भरण पोषण कर सके। साथ ही शिक्षा और रोजगार भी प्रदान की जायेगा। इस योजना का लाभ सरकार द्वारा 21 वर्ष की आयु होने तक प्रदान किया जाएगा। Mukhyamantri Vatsalya Yojana की मदद से बच्चे आत्मनिर्भर बन सकेंगे। साथ ही कसी अन्य वियक्ति पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा।

Mukhyamantri-Vatsalya-Yojana-2021-2

इस योजना का लाभ इन परिस्थितियों में प्रदान किया जाएगा

  • राज्य के जीं बच्चो के माता-पिता की मृत्यु 1 मार्च 2020 से 31 मार्च 2022 के बीच कोरोना वायरस समीकरण की वजह से या फिर कसी और बीमारी की वजह से होई हो।
  • अगर किसी के माता पिता में से किसी एक की मृत्यु पहले हो गयी हो और एक की मृत्यु कोरोना वाइरस के वजह से होई हो।
  • परिवार के एक लौते कमाऊ सदस्य की मृत्यु 1 मार्च 2020 से 31 मार्च 2022 तक होने के कारण।

Mukhyamantri Vatsalya Yojana 2022 के लाभ तथा विशेषताएं

  • उत्तराखंड के के मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत जी द्वारा इस Mukhyamantri Vatsalya Yojana को शुरू किया गया है।
  • इस योजना के ज़रिये से राज्य के उन सभी बच्चो को लाभ प्रदान किया जाएगा। जिनके माता-पिता की मृत्यु कोरोना वायरस संकरण की वजह से हुई हो।
  • इस योजना के तहत 3000 रुपए की धनराशि आर्थिक मदद के तोर पर 21 साल की उम्र तक प्रदान की जाएगी।
  • उमीदवार का बैंक खता होना ज़रूरी है।
  • प्राप्त होने वाली राशि सीधे बैंक कहते में ट्रांसफर की जाएगी।
  • राज्य सरकार द्वारा 5% सरकरी कोटा भी रखा जायेगा।
  • इस योजना के तहत प्रॉपर्टी बेचने का अधिकार बच्चो के बालिग होने तक कसी को अधिकार नहीं होगा।
  • इस बात की ज़िम्मेदारी संबंधित ज़िले के जिला अधिकारी को दी जाएगी।

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना 2022 की योग्यता

  • आवेदक उत्तराखण्ड का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  •  बैंक खाता होना ज़रूरी है
  • आवेदक के माता -पिता या अभिभावक की मृत्यु कोरोना वायरस संक्रमण के वजह से होई है।

ज़रूरी दस्तावेज

  • Aadhar Card
  • बैंक खाता विवरण
  • Ration Card
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • Passport Size Photo
  • Mobile Number
  • माता पिता का मृत्यु प्रमाण पत्र

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

mukhyamantri-vatslay-yojana-768x538-1

  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको रीसेंट अपडेट के विकल्प पर क्लीक करना है।

mukhyamantri-vatsaly-yojana-2

mukhyamantri-vatsaly-yojana-2-1

  • फिर आपको आवेदन पत्र के विकल्प पर क्लिक करना होगा।

mukhyamantri-vatslay-yojana-2-4

  • इसके बाद आपको फॉर्म डाउनलोड करके प्रिंटआउट निकलना होगा।
  • फॉर्म में मालूम की गयी सभी तरह की जानकारी को सही से दर्ज करना है।
  • फॉर्म के साथ आपको ज़रूरी दस्तावेज़ भी आत्ताच करने है।
  • अब इस फॉर्म को संबंधित विभाग में जमा करना होगा।
  • इस तरह सफलतापूर्वक आपका आवेदन हो होजाएगा

Conclusion

हमने आप सभी को Mukhyamantri Vatsalya Yojanaसे जुडी जानकारी से आप सभी को अगवत कर दिया है यदि फिर भी आपको कसी भी तरह की कोई समस्या का सामना करना पड़ रहा है। तो आप कमेंट के ज़रिये से मालूम कर सकते है। आपका एक एक कमेंट हमारे लिए बहुत मायने रखता है। हम आपकी समस्या का समाधान करने के लिए निरंतर प्रयास करेंगे।

Leave a Comment