UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022 Form | देवी अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना

देश में बहुत सी ऐसी बालिकाएं है जो शिक्षा प्राप्त करना तो चाहती है लेकिन अपने परिवार की आर्थिक स्तिथि कमज़ोर होने की वजह से वह शिक्षा प्राप्त करने में असमर्थ रहती है जिसकी वजह से उन्हें बहुत समस्याओ का सामना करना पड़ता है इसी दिशा में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा गरीब परिवारों की बेटियों को मुफ्त शिक्षा प्रदान करने के लिए यूपी अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना को शुरू किया है जिसके माध्यम से राज्य के गरीब परिवारों की बेटियों को ग्रेजुएशन तक मुफ्त शिक्षा प्रदान करवाई जाएगी। जिससे उनका भविष्य उज्जवल बन सके। और बिना किसी समस्या का सामना करे ग्रेजुएशन तक मुफ्त शिक्षा प्राप्त कर सके। तो दोस्तों आज हम आप सभी को इस लेख के माध्यम से UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana से सम्बन्धी सभी महत्पूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे है जो आपको इस योजना का लाभ प्राप्त करने में सहयता प्रदान करेगी।

image-258-768x432

UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा गरीब परिवार की बेटियों को मुफ्त शिक्षा देने के लिए लिए यूपी देवी अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना को शुरू किया है जिसके माध्यम से लड़कियों को ग्रेजुएशन तक मुफ्त शिक्षा प्रदान की जाएगी। साथ में उन्हें यूनिफॉर्म, स्कूल बैग, किताबें-कॉपियां आदि भी मुफ्त उपलब्ध कराई जाएगी। जिसके लिए सरकार द्वारा 21 करोड़ 12 लाख रुपए का बजट तय किया गया है सरकार इसी साल से लाभार्थी लड़कियों को शिक्षा प्रदान करने के लिए शुल्क देने की व्यवस्था कर रही है राज्य के उच्च शिक्षा विभाग द्वारा UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana संचालन के साथ निगरानी भी की जा रही है राज्य के सभी जाति, वर्ग एवं धर्म की ‌गरीब लड़कियों को इस योजना के माध्यम से ग्रेजुएशन तक शिक्षा प्रदान की जाएगी। जिससे उनका भविष्य उज्जवल बनने के साथ वह आत्मनिर्भर एवं सशक्त बन सके।

Khud Kamao Ghar Chalao Yojana

 

Uttar Pradesh Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana Overview

योजना का नाम उत्तर प्रदेश अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना
किसके द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा
राज्य उत्तर प्रदेश
संबंधित विभाग यूपी उच्च शिक्षा विभाग
लाभार्थी प्रदेश के गरीब परिवारों की बेटियां
उद्देश्य ग्रेजुएट स्तर तक गरीब बेटियों को निशुल्क शिक्षा प्रदान करना
निर्धारित बजट 21 करोड़ 12 लाख रुपए
साल 2022
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइट यहाँ क्लिक करे

यूपी अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना का लाभ प्रदान करने की कार्यविधि की शुरुआत

राज्य के उच्च शिक्षा विभाग द्वारा आने वाले समय में छात्राओं को लाभ प्रदान करने के लिए कार्यविधि की शुरुआत कर दी है जिसके लिए राज्य के सभी प्रदेश विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों से ग्रेजुएशन के पहल साल में हुए प्रवेश का सम्पूर्ण विवरण माँगा है जिससे बाद उन लाभ्यर्थी छात्राओं की फीस वापिस लौटाने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। राज्य सरकार द्वारा पहले से ही आर्थिक कमज़ोर परिवारों की छत्राओ को फीस को माफ किया हुआ है लेकिन अब इस UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana माध्यम से योग्य छात्राओं को ग्रेजुएशन तक मुफ्त शिक्षा उपलब्ध कराई जाएगी।

UP CM Fellowship Yojana

Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana के तहत यह सहयता प्राप्त होगी

  • राज्य की वह गरीब परिवार की बेटिया जिन्होंने बोर्ड परीक्षा में अच्छे प्राप्त किए है उन्हें 2000 रुपए आर्थिक सहयता धनराशि प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त कर गरीब परिवार की बेटिया ग्रेजुएशन तक मुफ्त शिक्षा प्राप्त कर सकेगी।
  • इसके अलावा उन्हें स्कूल बैग, ड्रेस, किताब और पढ़ने लिखने की चीजें भी मुफ्त दी जाएंगी।
  • इस योजना के माध्यम से छात्राओं को समाज कल्याण विभाग की स्कालरशिप भी प्रदान की जाएगी।
  • UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana के तहत सभी धर्म,जाति की गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाली छात्राओं को शुल्क प्रतिपूर्ति की सुविधा प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के ज़रिये जिन छात्राओं को समाज कल्याण विभाग से शुल्क वापिस नहीं होती है उनकी फीस वापस उनके खाते में ट्रांसफर की जाएगी।

eMandi Portal UP

उत्तर प्रदेश अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना का मुख्य उद्देश्य

यूपी अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना का मुख्य उद्देश्य यह है की राज्य के गरीब परिवार की बेटियों को ग्रेजुएशन तक मुफ्त शिक्षा प्रदान करना है जिससे उनका भविष्य उज्जवल बन सके। आम और पर देखा जाता है जिन परिवार की आर्थिक स्तिथि कमज़ोर होती है वह अपनी बेटी को शिक्षा उपलब्ध कराने में असमर्थ रहती है जिसकी वजह से उन्हें बहुत समस्याओ का सामना करना पड़ता है इसी दिशा में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा गरीब परिवारों की बेटियों को मुफ्त शिक्षा प्रदान करने के लिए UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana को शुरू किया है जिससे उन्हें बिना किसी समस्या के ग्रेजुएशन तक मुफ्त शिक्षा प्रदान की जा सके। साथ ही यूनिफॉर्म, स्कूल बैग, किताबें-कॉपियां आदि चीजें भी मुफ्त ले सकेगी। इस योजना के ज़रिये गरीब परिवारों की बेटियों का भविष्य उज्जवल बनेगा। और वह बेहतर जीवन यापन कर सकेगी।

image-257-768x742

उत्तर प्रदेश अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना 2022 के लाभ

  • यूपी के मुख्यमंत्री जी द्वारा राज्य के गरीब परिवार की बेटियों को फ्री में शिक्षा प्रदान करने के लिए यूपी देवी अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना को आरम्भ किया है।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त कर गरीब परिवार की बेटिया ग्रेजुएशन तक मुफ्त शिक्षा प्राप्त कर सकेगी।
  • साथ में उन्हें सरकार द्वारा उन्हें यूनिफॉर्म, स्कूल बैग, किताबें-कॉपियां आदि चीजें भी मुफ्त उपलब्ध कराई जाएगी।
  • UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana के संचालन से समाज में बेटियों के प्रति बानी हुई सोच को बदला जा सकेगा।
  • अब राज्य के गरीब परिवारों को अपनी बेटी की शिक्षा उपलब्ध कराने में किसी भी समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • इस योजना के लिए सरकार द्वारा इस वर्ष का 21 करोड़ 12 लाख रुपए का बजट निर्धारित किया है इस सेशंस ही लाभार्थी लड़कियों की शिक्षा प्रदान करने के लिए शुल्क देने की व्यवस्था की जा रही है
  • इस योजना के ज़रिये से उच्च शिक्षा में छात्राओं की भागीदारी में उन्नति होगी। जिससे वह भी राज्य की प्रगति में अपना योगदान देने में सक्षम होंगी।

यूपी अहिल्याबाई मुफ्त शिक्षा योजना के तहत योग्यता

  • आवेदिका लड़की को उत्तर प्रदेश राज्य का स्थाई निवासी होना ज़रूरी है।
  • इस योजना का लाभ केवल लड़किया ही प्राप्त करने के योग्य है।
  • गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाली लड़कियां ही इस योजना का लाभ प्राप्त करने के योग्य है
  • आवेदिका का बैंक खाता होना ज़रूरी है जो आधार कार्ड से लिंक हो।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • शैक्षिक योग्यता का प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता विवरण

UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022 Offline Registration

  • आवेदिका छात्रा को सबसे पहले अपने विद्यालय /विश्वविद्यालय/महाविद्यालय के संचालको से संपर्क करना है।
  • इस के बाद विद्यालय/विश्वविद्यालय/महाविद्यालय के संचालको द्वारा छात्रा का योजना के तहत रजिस्ट्रेशन करवाया जाएगा।
  • छात्रा का नाम रजिस्टर होने के बाद उसका सम्पूर्ण जानकारी का विवरण उच्च शिक्षा विभाग तक पहुंचाई जाएगी।
  • उच्च शिक्षा विभाग द्वारा सम्पूर्ण जानकारी का वेरिफिकेशन करने के बाद लाभान्वित छात्राओं के नाम की एक लिस्ट को तैयार किया जाएगा।
  • इस लिस्ट में जिन लाभ्यर्थी लड़कियों का नाम शामिल होगा उन्हें ही योजना के तहत मुफ्त शिक्षा प्रदान की जाएगी।

Leave a Comment