पीएम पोषण शक्ति निर्माण योजना 2022 : PM Poshan Shakti Nirman Scheme

PM Poshan Shakti Nirman Yojana | प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना 2022 | Pradhanmantri Poshan Shakti Nirman Yojana 2022 | PM Poshan Yojana | पीएम पोषण शक्ति निर्माण योजना आवेदन

देश भर मैं बहुत बच्चे ऐसे है जो कुपोषित का शकर होए हुए है। पोषण युक्त खाना न मिलने के कारण बच्चे कुपोषित का शिकार होजाते है। इन सब समस्या को देखते हुए। भारत सरकार द्वारा विभिन प्रकार की योजनाओ को कुपोषित दूर करने आरम्भ किया जाता है। ताकि बच्चो को पोषण युक्त खाना मिल सके। ऐसे में केंद्र सरकार द्वारा PM Poshan Shakti Nirman Yojana को शुरू किया गया है। इस योजना के ज़रिये से देश भर के सरकारी एवं सरकारी मान्यता प्राप्त स्कूल मैं पढ़ रहे बच्चो को पोषण युक्त भोजन प्रदान किया जाएगा। ताकि बच्चो को कुपोषित शिकार होने से बचाया जा सके। साथ ही अच्छे से शिक्षा प्राप्त कर सके। किस तरह से आप इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है। इस योजना से जुडी सभी जानकारी से आपको अगवत करेंगे।

PM Poshan Shakti Nirman Yojana

देश भर के सरकारी एवं सरकारी मान्यता प्राप्त स्कूलो में पढ़ रहे बच्चो को पोषण युक्त भोजन प्रदान करने के लिए इस योजना को केंद्र सरकार द्वारा शुरू किया है। क्योकि पोषण युक्त भोजन न मिलने की वजह से बच्चे कुपोषित का शिकार हो जाते है। सरकार द्वारा अब तक मिड डे शुरू किया जा रहा थी। जिसके तहत छात्रों को भोजन उपलब्ध किया जाता था। सरकार द्वारा इस योजना को PM Poshan Shakti Nirman Yojana के समहित किया जाएगा। इस योजना के ज़रिये से देश भर में 5 साल तक के करोड़ो बच्चो को पोषण युक्त भोजन प्रदान किया किया जाएगा। 11.20 लाख सरकारी सहयता स्कूल प्रदान की जाएगी। देश भर के स्कूलो में शिक्षा प्राप्त करने वाले बच्चो को पोषण युक्त भोजन प्रदान किया जाएगा। भोजन मेनू में हरी सब्जी भोजन जैसी प्रोटीन युक्त भोजन शामिल होंगे।

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना का बजट

Pradhanmantri Poshan Shakti Nirman Yojana के साँचल के लिए 1.31 लाख करोड बजट खर्च करे जाएंगे। जिसके अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा 54061.73 करोड़ रुपए प्रदान किये जाएँगे एवं राज्य सरकार द्वारा 31733.17 करोड़ रूपए योगदान होगा। अनाज खरीदने के लिए केंद्र सरकार द्वारा 45000 करोड़ प्रदान किये जाएंगे। और पहाड़ी राज्य में इस योजना को शुरू करने के लिए 90% तक खर्च केंद्र सरकार द्वारा किया जाएगा और 10% का खर्च राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा। Pradhanmantri Poshan Shakti Nirman Yojana को केंद्र सरकार द्वारा साल 2021-22 से 2025-26 तक शुरू किया जाएगा। केंद्र सरकार द्वारा राज्य सरकार से यह आग्रह किया जाएगा स्कूलों और रसोइयों, खाना पकाने वाले सहायकों को डायरेक्ट  बेनिफिट ट्रांसफर के मान्यदेय प्रदान किया जाए।

PM-Poshan-Shakti-Nirman-Yojana

PM Poshan Shakti Nirman Yojana 2022 Highlight

 योजना का नाम प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना
 किसने आरंभ की केंद्र सरकार
 लाभार्थी सरकारी एवं सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र
 लाभार्थियों की संख्या 11.8 करोड़
 स्कूलों की संख्या 11.2 करोड़
 उद्देश्य बच्चों को पोषण युक्त भोजन उपलब्ध करवाना।
 ऑफिसियल वेबसाइट जल्द लॉन्च की जाएगी
 साल 2022
 बजट 1.31 लाख करोड़

 

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना का उद्देश्य

केंद्र सरकार द्वारा PM Poshan Shakti Nirman Yojana को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य सरकारी एवं सरकारी मान्यता प्राप्त स्कूलो के बच्चो को पोषण युक्त भोजन उपलब्ध करवाना है। जिस से के बच्चे कुपोषित का शिकार नहीं होए। इस योजना को शुरू करने से देश भर के बच्चो को कुपोषित से भी बचाया जा सकेगा साथ ही बच्चे शिक्षा भी अच्छे से प्राप्त कर पाएंगे।

PM Poshan Shakti Nirman Yojana 2022 के लाभ तथा विशेषताएं

  • केंद्र सरकार द्वारा PM Poshan Shakti Nirman Yojana को देश भर के स्कूल में पढ़ रहे बच्चे के लिए शुरू किया गया है।
  • सरकारी एवं सरकारी मान्यता प्राप्त स्कूलो के बच्चो को पोषण युक्त भोजन उपलब्ध करवाना है।
  • इस योजना को कुपोषित को खत्म करने के लिए शुरू किया गया है।
  • बच्चे कुपोषित का शकर होने से बच सकेंगे।
  • इस योजना के ज़रिये से देश भर में 5 साल तक के 11.8 करोड़ बच्चों को पोषण युक्त भोजन प्रदान किया किया जाएगा।
  • 11.20 लाख सरकारी एवं सरकारी मान्यता प्राप्त स्कूलों को प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के ज़रिये से बच्चो के जीवन शैली काफी सुधार आएगा।

योग्यता एवं महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय का प्रमाण
  • आयु का प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

पीएम पोषण शक्ति निर्माण योजना आवेदन करने की प्रक्रिया

  • इस योजना के तहत आपको कसी तरह का कोई आवेदन करना नहीं पड़ेगा।
  • इस योजना का लाभ बच्चो को उनके स्कूलों में प्रदान किया जाएगा।
  • स्कूलों में ही बच्चो को पोषण युक्त भोजन प्रदान किया जाएगा।

Leave a Comment