मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2022 | लाभ, आवेदन प्रक्रिया

बिहार सरकार राज्य के नागरिको के कल्याण के लिए विभिन प्रकार की योजना की शुरुआत कर उनके जीवन को बेहतर बनाने का निरंतर प्रयास किया जाता है इसी दिशा में आगे बढ़ते हुए बिहार सरकार ने राज्य के मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए एक योजना को शुरू किया गया है जिसका नाम मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना है इस योजना के तहत किसानो को मछली पालन हेतु तालाब का निर्माण करने पर 70% अनुदान दिया जाएगा। और यह अनुदान राज्य के मत्स्य विभाग द्वारा प्रदान किया जाएगा। जिससे राज्य के किसानो की आर्थिक स्तिथि को मजबूत किया जा सके। दोस्तों आज इस लेख के माध्यम से Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2022 से सम्बन्धी सभी मेहपूर्ण जानकारी आप सभी को प्रदान करेंगे। जो आपको इस योजना का लाभ प्राप्त करने में सहयता प्रदान करेगी। इसलिए आप सभी से निवेदन है कृप्या इस लेख को अंत तक ज़रूर पढ़े।

Mukhyamantri Digital Health Yojana

Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2022

राज्य में मछली पालन में वृद्धि करने के लिए बिहार सरकार द्वारा मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना की शुरुआत की गयी है जिसके लिए लाभ्यर्थी नागरिक को निजी चौर जल क्षेत्र ज़मीन पर तालाब बनवाने के लिए लिए 70% का अनुदान दिया जाएगा। और साथ में कृषि, बागवानी व कृषि वानिकी को भी उन्नत करने के लिए अलग से अनुदान मुहैया कराया जाएगा। जिससे राज्य में रोजगार के अवसर में बढ़ोतरी होगी। और नागरिको को रोजगार की प्राप्ति होगा। बिहार के पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग द्वारा Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana को पायलट के रूप में सीवान समेद 6 अन्य जिलों में शुरू किया गया है जिसके अंतर्गत विभाग द्वारा 50 हेक्टेयर ज़मीन में तालाब बनाने पर 2.48 करोड़ रुपए अनुदान देने का लक्ष्य निर्धारित किया है

image-272-768x492

आपको बतादे तालाब बनाने का मॉडल भी बनाया है जिसमे एक हेक्टेयर में दो तालाब, चार तालाब और एक तालाब का निर्माण एवं भूमि विकास की रणनीति तैयार की गई है। जिससे कार्य को सफलतापूर्वक किया जा सके।

Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana

Overview Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2022

योजना का नाम Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana
शुरू की गई बिहार सरकार द्वारा
लाभार्थी बिहार के लोग
उद्देश्य मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए निजी चौर जल क्षेत्रों में तालाब निर्माण हेतु अनुदान प्रदान करना।
अनुदान 70% तक
साल 2022
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइट यहाँ क्लिक करे

बिहार मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2022 के आवेदन सम्बन्धी मुख्य तारीख़

  • राज्य सरकार द्वारा इस योजना के तहत इच्छुक नागरिकों से आवेदन मांगे गए हैं। जिनकी तिथि से जुड़ी जानकारी नीचे इस प्रकार है।
  • अधिकारिक सूचना जारी होने की तिथि– 9 सितंबर सन 2022
  • आवेदन करने की अंतिम तिथि- 18 अगस्त सन 2022

बिहार मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना 2022 के लाभ जाने

  • बिहार सरकार द्वारा राज्य के परंपरागत मछुआरों को योजना के तहत लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • निजी एवं चौर जल क्षेत्र ज़मीन पर तालाब बनाने के लिए मॉडल भी तैयार किया गया है। जिससे सफलतापूर्वक कार्य किया जा सके।
  • एक हेक्टेयर में दो तालाब, चार तालाब और एक तालाब का निर्माण एवं भूमि विकास की रणनीति तैयार की गई है।
  • Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana के तहत 1 हेक्टेयर रकवा में दो तालाब निर्माण किए जाने पर 8.80 लाख/हेक्टेयर, रुपए का खर्च आएगा।एक हेक्टेयर रकवा में चार तालाब बनाने में 7.32 लाख/हेक्टेयर और एक हेक्टेयर रकवा में एक तालाब का निर्माण और भूमि विकास में 9.69 लाख/हेक्टेयर रुपए खर्च की लगत आएगी।
  • जो नागरिक अन्य वर्ग से सम्बन्ध रखता है उन्हें 50% का अनुदान दिया जाएगा। और जो नागरिक अत्यंत पिछड़ा वर्ग/अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति से सम्बन्ध रखता है उन्हें 70%अनुदान दिया जाएगा। और उद्यमी आधारित नागरिको को 30% अनुदान प्रदान किया जाएगा।

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना का उद्देश्य क्या है

मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना का उद्देश्य निजी चौर जल क्षेत्र ज़मीन पर तालाब बनाने के लिए लाभ्यर्थी नागरिको को अनुदान प्रदान करना है इसी के साथ कृषि, बागवानी व कृषि वानिकी को भी उन्नत करने के लिए भी अलग से अनुदान उपलब्ध कराया जाएगा। जिससे राज्य में रोजगार के अवसर में बढ़ोतरी होगी। और नागरिको को रोजगार की प्राप्ति होगा। बिहार के पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग द्वारा Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana को पायलट के रूप में सीवान समेद 6 अन्य जिलों में शुरू किया गया है जिसके अंतर्गत विभाग द्वारा 50 हेक्टेयर ज़मीन में तालाब बनाने पर 2.48 करोड़ रुपए अनुदान देने का लक्ष्य निर्धारित किया है कार्य को सफलतापूर्वक करने के लिए विभाग द्वारा मॉडल बनाया गया है जिससे कार्य को सरलता से किया जा सके।

Khud Kamao Ghar Chalao Yojana

Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana की योग्यता एवं ज़रूरी दस्तावेज

  • आवेदकों को बिहार का स्थाई निवासी होना ज़रूरी है।
  • व्यक्तिगत/ समूह में आवेदन किया जा सकता है।
  • समूह में कम से कम 5 सदस्य होने जरूरी हैं।
  • आधार कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • पैन कार्ड
  • जीएसटी
  • भूस्वामित्व प्रमाण पत्र
  • लीज एकरारनामा
  • समूह में कार्य करने की सहमति
  • व्यक्तिगत /समूह लाभुको के द्वारा स्व-अभिप्रमाणित दो पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • उद्यमी लाभुको के द्वारा स्व अभिप्रमाणित निबंधन प्रमाण पत्र
  • विगत तीन वर्षो का अंकेक्षण एवं आयकर रिटर्न

Mukhyamantri Samekit Chaur Vikas Yojana 2022 Online Registration

  • राज्य के इच्छुक नागरिक को सबसे पहले मुख्यमंत्री समेकित चौर विकास योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुलकर आ जाएगा।

image-274-768x311

  • फिर आपको के वेबसाइट होम पेज पर मत्स्य योजनाओं हेतु आवेदन के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • अब इस पेज पर आपको दो ऑप्शन दिखेंगे। मत्स्य योजनाओं में आवेदन हेतु पंजीकरण करें और पहले से पंजीकृत है तो लॉगिन करें।
  • अगर आप पंजीकृत नहीं हो। तो पहले विकल्प पर क्लिक करके, और पंजीकरण करले फिर जाकर पहले से पंजीकृत है तो लॉगिन करें के विकल्प पर क्लिक कर दें।
  • फिर आपको अपना रजिस्ट्रेशन एवं पासवर्ड को दर्ज कर लॉगिन के ऑप्शन पर क्लिक करदेना है।
  • अब आप योजना के तहत आवेदन कर सकते है।

Leave a Comment